अजब गज़ब दुनिया की हिंदी खबरे

Body Language कैसे बनाती है कामयाब ?

0 8

कैसे जाने Body Language के बारे में ?

आज हर व्यक्ति सफलता के ओर तेजी से अग्रसर है और खुद को दुसरे से बेहतर बनाने में लगा है जिससे वह खुद को जरुरी वक्त पर साबित कर सके.

जबान से तो अपने विचारो को अभिव्यक्त किया ही जाता है, अभिव्यक्ति शारारिक हावभाव से भी होती है. इसलिए आप चाहे student हो या प्रोफेशनल, शारारिक मुद्राओ के बारे में सामान्य जानकारी बेहद अहम है.

तभी आप दूसरो पर अपना बेहतर प्रभाव डाल सकते है और दूसरो की भी अभिव्यक्ति को समझ सकते है.

सिर्फ सामान्य ज्ञान ही नहीं बल्कि बॉडी language को समझना भी सफलता के लिए बहुत जरुरी है. इसलिए अपने जीवन में succes होने के लिए आपको importance physical mainers को समझना आवश्यक है. यहाँ दिए गये कुछ mainers को आप लोग अपने जीवन में अपनाते होंगे. अगर कुछ चीजे उनमे से मिस है तो उन्हें आप अपनी life में include कर सकते है.

* बातचीत के दौरान कोई आपके कितने नजदीक बैठता है, इससे आप दोनों के सम्बन्धो का निर्धारण होता है. नजदीकी जितनी अधिक होगी, सम्बन्ध उतने ही मजबूत होंगे. इसलिए जब आप किसी अपने के पास बैठे, तो समुचित दूरी का ध्यान रखे.

* जब आप किसी को कुछ कह रहे है और वह आपकी बात सुनने के बजाय अपने हाथ में ली हुई चाबी, पेंसिल, पेपर या मोबाइल पर अधिक ध्यान दे रहा है, तो यह नकारात्मक संकेत है. तात्पर्य यह है की आपकी बाते उसे कम ही पसंद आ रही है. जब कोई दूसरा आपसे कोई महत्वपूर्ण बात कह रहा हो, तो उसके साथ ऐसा न करे. ऐसा करना दूसरे व्यक्ति के अपमान करने जैसा है.

* सिर व चेहरे की position से भी पता चलता है की सामने वाले व्यक्ति की आपमें कितनी दिलचस्पी है और वह आपकी बातो पर कितना ध्यान दे रहा है. यदि बातचीत के दौरान सामने वाला आपकी ओर देखने के बजाय बार-बार इधर-उधर देखे, तो यह समझ ले की वह आपकी बात अनसुनी कर रहा है. इसलिए interview के दौरान या किसी अधिकारी से बातचीत करते वक्त अपना चेहरा सामने ही रखे.

* interview में, office में या friend circal में eye contact भी व्यक्ति की मानसिकता को बता देता है. यदि कोई नजरे इधर-उधर करते हुए कुछ और देखने की कोशिश करता है, तो इसका सीधा सा मतलब है की आपकी बातो में उसकी रुचि बहुत कम ही है. eye contact के मामले में कम से कम चेहरे की ओर देखने से भी सकारात्मक संकेत मिलता है, अन्यथा नकारात्मक. अगर अच्छे सम्बन्ध बनाने है तो इस बात का ख्याल रखे.

* interview, मीटिंग या confrence में यदि कोई व्यक्ति बार-बार उबासी ले रहा है, तो स्पष्ट है की उसे वह माहौल बोर कर रहा है. यदि आप ऐसा करेंगे, तो बॉस पर इसका negative effect पड़ेगा जिसका असर भविष्य में आप के काम में होने की पूरी सम्भावना रहती है.

अपने दोनों हाथो को कोई किस प्रकार रखता है, इससे भी उसके मनोभावों का पता चलता है. दोनों हाथ बांध कर छाती के पास रखना बेहतर आत्मविश्वास का सूचक है, जबकि कमर पर दोनों हाथ रखना थकावट को बतलाता है. interview के दौरान अपने दोनों हाथ घुटने पर रखना चाहिए.

* पैरो की स्थिति से भी मनःस्थिति को समझा जा सकता है. एक पैर के ऊपर दुसरे पैर को रखना जहाँ आपके confidence का परिचायक है, वहीँ लगातार पैर हिलाते रहना बताता है की आप कही न कही अन्दर से खुद को कमजोर समझ रहे है. interview के दौरान पैर हिलाने जैसा काम कतई न करे.

दोस्तों हमारे सफलता के लिए सिर्फ नॉलेज ही काफी नहीं होती बल्कि हमारे behavier को प्रभावशाली बनाने में body language भी एक अहम रोल निभाता है. इसलिए आपको ऊपर दिए गये tips को अपने life में follow करना चाहिए और इन्हें बिलकुल भी नजरअंदाज न करे.

सफल लोग कुछ अलग नहीं करते बल्कि वो चीजो को अलग तरीके से करते है. ऐसी छोटी-छोटी चीजो के कारण ही किसी व्यक्ति की persanlty बहुत attractive लगती है और हर succesful person में आपको ये चीजे दिखाई देंगी. इन चीजो को अपनाने के बाद आप negativity का शिकार नहीं होंगे बल्कि आपमें positivity आ जाएगी.

So Friends, आज से ही इन चीजो को अपनी life में शामिल कर लीजिये और एक अपनी life को एक बेहतर life बनाइये.

 

You might also like
Comments
Loading...