भारत ऐसा देश है जहां हर गली, हर नुक्कड़, हर चौराहे से निकलती हैं अनगिनत कहानियां. लेकिन उन्हें अपनी भाषा, यानि हिंदी में आप तक पहुंचाने के लिए आ गया है गज़ब अड्डा. अनोखी कहानियां, इंडियन और इंटरनेशनल वायरल कंटेंट, ज्ञानवर्धक आर्टिकल्स, न्यूज़, हंसी-मज़ाक, वीडियोस, और बहुत कुछ आपको मिलेगा ग़ज़ब अड्डा में. तो हर दिन जानिए कुछ नया, कुछ अलग, ग़ज़ब अड्डा के ज़रिये. आइये, पढ़िए, शेयर कीजिये और हमारे साथ बनाइये ग़ज़बपोस्ट को इंडिया की सबसे ग़ज़ब हिंदी वेबसाइट.

नवजात शिशुओं के अनोखे 29 रोचक तथ्‍य- Interesting Fact About Babies

0 12

बच्चे भगवान का रूप होते हैं। बचपन हमारी जिंदगी का सबसे अहम समय हैं किसी घर में नवजात शिशु की किलकारी की आवाज सबसे मधुर-मोहक आवाज होती है। पूरे परिवार के लिए बच्‍चे की आवाज किसी अमृतरस से कम नहीं। पूरे परिवार के साथ नवजात शिशु का रिश्‍ता अनमोल दुनिया में कोई और दूसरा नहीं होता है। आईए जानते है नवजात शिशु के बारे में बेहद रोचक तथ्‍य।

1.एक बच्‍चे में एक व्‍यक्ति के मुकाबलें 60 हड्डिया अधिक होती हैं।

2.जो माताए गर्भवस्‍था के समय किसी प्रकार का नशा करती है उसके बच्‍चे भी उसी नशे के आदि हो सकते है।

3.अमेरिका में प्रत्‍येक वर्ष 1 लाख बच्चे जन्म से ही कोकिन के आदी पैदा होते हैं क्योकिं उनकी माँ ने प्रेग्नेंसी के दौरान ड्रग्स लिया था।

4.एक आदमी के मुकाबले बच्चे 3 गुना ज्यादा तरह के स्वाद को समझ सकते हैं।

5.वैज्ञानिक शोध बताते हैं, कि समय से पहले जन्‍म लेने वाले ज्यादातर बच्चे Left handed होते हैं।

6.गर्भअवस्‍था के समय अगर किसी महिला के अंग को कोई हानि पहुचती है तो गर्भाश्य में पल रहा बच्चा उस अंग को ठीक करने के लिए स्टेम सेल्स भेजता हैं।

7.ज्‍यादातर बच्‍चों की तस्‍वीरे सन् 1838 से 1960 के बीच खींची गई थी।

8.पूरी दुनिया में हर रोज 367200 बच्‍चों का जन्‍म होता है यानी एक मिनट में औसतन 255 बच्‍चों का जन्‍म होता है।

9.मिशिगन की 36 साल की बार्बी सोपर 8 अगस्त 2008 को यानी 8/8/8 को पहली बार मां बनीं, दूसरा बच्चा 9 सितंबर 2009 यानी 9/9/9 को हुआ, आखिर में इसी महीने की 10 तारीख को उन्होंने एक बेटी को जन्‍म दिया। इसकी जन्मतिथि भी 10/10/10 है।

Must Read:मगरमच्छ से जुड़ीं 23 अनोखी जानकारियां: Intresting Fact About Crocodile

10.शिशु के जन्‍म के समय उसके शरीर पर एक भी बैक्टीरिया नही होता, लेकिन जन्‍म के कुछ समय बाद ही उसके नवजात शिशु के शरीर में बैक्‍टीरिया बैठना शुरू हो जाते है।

11.नवजात शिशु कुछ हफ़्तों तक केवल दो ही रंग को पहचानते है काला और सफेद।

12.नवजात शिशु जब कुछ हफ़्तों का हो जाता है तब सबसे पहला रंग जो देखता है वह है लाल रंग।

13.बच्चे अपने जन्म के कुछ साल तक सपना नहीं देखते हैं। ऐसा Psychologists का मानना है।

14.50,000 बच्‍चों में से केवल एक बच्‍चा बिना Kidney होते।

15.किसी बच्चे के जन्‍म लेने की डॉक्टरों की दी हुई तारीख पर जन्‍म लेने की संभावना केवल 4% होती हैं।

16.Cochlear Ear-Kiss Injury, नाम की एक Condition है जो बताती है कि बच्चे के कान पर Kiss करने से वह बहरा हो सकता हैं।

17.एक नवजात शिशु के जन्‍म के समय उसके पूरे शरीर में केवल 1 कप खून होता हैं।

18.बच्चे का जन्‍म का वजन दो गुना हो जाता है अपने जन्‍म से 5 महीने बाद।

19.जब बच्‍चा पैदा होता है तो उसको किसी स्‍वाद को चखने की इंद्रिया जीभ के साथ-साथ मुंह के ऊपर, पीछे व दोनों तरफ भी होती है।

20.जन्‍म से तीन महीने तक बच्‍चे 8 या 9 इंच की दूरी तक ही देख सकते हैं।

21.जन्म लेने के 10 मिनट बाद ही बच्चे में इतना दिमागी विकास हो जाता है कि वह यह समझ सकता है कि कोई आवाज किस ओर से आ रही है।

Must Read:कैलाश पर्वत से जुडी रहस्यमई बातें-Intresting Fact About Kailash Parvat

22.प्रत्‍येक तीन में से एक नवजात शिशु के शरीर पर जन्म से ही Birth Mark होता हैं।

23.Birth mark लड़कियों में लड़कों की तुलना में दो गुना ज्‍यादा होते हैं।

24.किसी 200 लोगो से भरे हुए होटल में सबसे तेज आवाज एक 3 साल के बच्चे की होती हैं।

25.जन्‍म से छ: माह तक बच्चे अलग-अलग इंसानो के बीच और बंदरो के बीच का अंतर पहचान सकते है।

26.जन्‍म के नो महीने बच्‍चे बंदरो के बीच का अंतर पहचानने की क्षमता खो देते है, लेकिन इंसानो को पहचानने की क्षमता पूरी उम्र तक बनी रहती हैं।

27.गर्भ में पल रहा बच्चा किसी भी प्रकार के आवाज को सुनने के बाद ज्‍यादा प्रतिक्रिया करता है खास तौर से किसी Music को सुनने के बाद।

28.लड़को के भी स्‍तन और निप्पल होते है, क्‍योंकि गर्भकाल की शुरूआत में सभी भ्रूण लड़की होते हैं।

29.गर्भावस्‍था के 12 से 13 हफ्तें में पता लगाया जा सकता है कि गर्भ में पलने वाला शिशु लड़‍की है या लड़का इसका मुख्‍य कारण है कि गर्भावस्‍था के 9 हफ्ते में शिशु के जननांग बनने लगते है।

Read This:2018 में जिन्दगी को ऐसे बनाये बेहतर | 2018 Resolution In Hindi


सुचना-: वैज्ञानिकों का मानना है कि किसी बच्‍चे को जोर से हिलाने पर उसके मस्तिष्‍क में रक्‍त स्राव हो सकता है यह उसकी मौत का कारण भी हो सकता है। अगर किसी नवजात बच्‍चे को नींद से जगाना भी हो तो उसके पैरों में गुदगुदी करें या फिर उसके गाल सहलायें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.