अजब गज़ब दुनिया की हिंदी खबरे

‘प्यार का पंचनामा’ के 10 बेहतरीन डायलॉग, हर आशिक को पढ़ना चाहिए

0 31

अगर आपने प्यार का पंचनामा फिल्म देखी होगी, तो उसे आप जिंदगी भर नहीं भूल सकते. अभिनेता कार्तिक आर्यन के ़डॉयलॉग्स पर लड़कों ने जमकर ताली बजाई थी. इस फिल्में तीन अलग-अलग लड़कों की कहानी होती है, जो दोस्त होते हैं. इन तीनों की जिंदगी में लड़कियां आती हैं. इन लड़कियों के साथ इनके रिश्ते पर ये फिल्म आधारित है.

ये फिल्म साल 2011 में रिलीज हुई थी. इस फिल्म का निर्देशक लव रंजन ने किया था. इस फिल्म की लोकप्रियतो को देखते हुए ही इस फिल्म का दूसरा पार्ट भी बना. आज हम आपके लिए इस फिल्म के कुछ बेहतरीन डॉयलॉग्स लेकर आये हैं.

1. ”कुत्तों का संडे नहीं होता…क्योंकि कुत्ते सातों दिन काम करते हैं”

2. ”शादी के पहले वो नागिन बीन पता है क्यों बजती हैं ? क्योंकि बैंड वाला भी चेतावनी देता है कि कौन आ रहा है तुम्हारी जिंदगी में, उसी का Signature tune बजाया जाता है”

3. ”इन लड़कियों को कोई खुश नहीं रख सकता. a happy Woman is a myth ! लड़कियों से होने वाला हर Discussion उनका Argument बन जाता है”.

4.”अब पता चला आदमियों को ज्यादा Heart attack क्यों आते हैं वो लड़कियों के चक्कर में जो रहते हैं और गे बंदे इतने Successful क्यों होते हैं क्योंकि उनके पास लड़की जो नहीं होती जो Problem बनें”

5. ”हर आदमी की फंडामेंटल राइट्स होते हैं कि वो बाथरूम में कुछ भी सोच सकता है लेकिन ये लड़कियां उसे भी छीन लेती हैं.”

6. ”Problem ये है कि मैं अपनी लाइफ में कोई प्रोब्लम नहीं चाहता हूं कि मेरी लाइफ में कोई प्रोब्लम ना हो, लेकिन मेरी लाइफ में कोई प्रोब्लम ना हो ये उसकी लाइफ की सबसे बड़ी Problem है.”

7. ”हर लड़की की लाइफ में एक उम्र आती है जब एक ड्राइवर, बॉडीगार्ड, नौकर और ATM चाहिए होता है. इतना सब कुछ तो वो अफोर्ड कर नहीं सकती इसलिए ढूंढती है एक Boyfriend.”

8. ”हर कामयाब आदमी के पीछे एक औरत का हाथ होता है, सच है ये. लेकिन कोई ये नहीं बताता कि हर Unsuccessful आदमी के पीछे भी एक औरत ही होती है.”

9. ”दो हफ्ते दिमाग चाटेंगी टेबल लेना है..टेबल लेना है.., पांच घंटे मॉल में एक सड़ी सी चप्पल उठाकर ले आएंगी और फिर अगले हफ्ते फिर शुरु हो जाएगा टेबल लेना है, टेबल लेना है..”

10. ”लड़की अगर लड़के के मां-बाप के बारे में कुछ बोल ले तो कोई टेंशन नहीं. लेकिन अगर लड़के उनके मां-बाप के बारे में बोलें तो 3rd और 4th World War दोनों एक साथ हो जाएंगे”

इस फिल्म में अपनी Girlfriend से परेशान लड़का अपने प्यार के किस्से कम और आपबीती ज्यादा सुनाता है. फिल्म मजेदार थी, लेकिन मेरे मन में एक सवाल रह गया. अगर इन लड़कों को इतनी ही प्रोबलम है तो ये Girlfriend बनाते ही क्यों हैं ?

 

You might also like
Comments
Loading...