भारत ऐसा देश है जहां हर गली, हर नुक्कड़, हर चौराहे से निकलती हैं अनगिनत कहानियां. लेकिन उन्हें अपनी भाषा, यानि हिंदी में आप तक पहुंचाने के लिए आ गया है गज़ब अड्डा. अनोखी कहानियां, इंडियन और इंटरनेशनल वायरल कंटेंट, ज्ञानवर्धक आर्टिकल्स, न्यूज़, हंसी-मज़ाक, वीडियोस, और बहुत कुछ आपको मिलेगा ग़ज़ब अड्डा में. तो हर दिन जानिए कुछ नया, कुछ अलग, ग़ज़ब अड्डा के ज़रिये. आइये, पढ़िए, शेयर कीजिये और हमारे साथ बनाइये ग़ज़बपोस्ट को इंडिया की सबसे ग़ज़ब हिंदी वेबसाइट.

डॉल्फिन्स के बारे में 33 मजेदार रोचक तथ्‍य- National Animal Of India in Hindi

0 6

National Animal Of India in Hindi समूंद्री या साफ पानी की नदीयों में रहने वाले सबसे खूबसूरत जीवों में डॉल्फिन की गिनती होती है। डॉल्फिन का लंबा चोंचनुमा मुंह उसे और खूबसूरत बनाता है। डॉल्फिन एक बहुत ही गजब का समझदार जीव है। आईए जानते है डॉल्फिन के बारे में कुछ रोचक तथ्‍य।

1.डॉल्फिन्स एक स्तनधारी जीव है, यह मछली नहीं है।

2.डॉल्फिन्स समुंद्री पानी को नही पीती है, क्योंकि समुंद्री पानी पीने से यह डॉल्फिन्स बीमार हो जाती है और मर भी सकती है।

3.पूरी दुनिया में Dolphins की 41 जीवित प्रजातियाँ पाई जाती है। इन Dolphins में 37 समुंद्रो में और 5 नदियों के साफ पानी में पाई जाती है।

Must Read:ऐसे जवाब जिनको अक्सर इंसान ढूंढने में लगा रहता है- सवाल जवाब

4.डॉल्फिन्स अपने भोजन से ही पानी की पूर्ति करती है।

5.डाल्फिन खुद ब खुद साँस नही लेती है।

6.नींद में भी डॉल्फिन्स के दिमाग का एक हिस्सा जगा रहता है, ताकि सांस लिया जा सके।

7.भारत में डॉल्फिन गंगा नदी में पाई जाती है लेकिन गंगा नदी में मौजूद डॉल्फिन अब विलुप्ति की कगार पर है।

8.डॉल्फिन्स पानी में 990 फीट तक की गहराई तक जा सकती है और पानी से 20 फीट ऊपर तक उछल सकती है। यह उंचाई दो मंजिला इमारत के बराबर है।

10.डॉल्फिन्स जब बीमार होती है तो वे डूबने से बचने के लिए समुंद्र के किनारे पर आ जाती है।

Read This:Complete Chanakya Niti In Hindi सम्पूर्ण चाणक्य नीति हिंदी में

11.डॉल्फिन्स केवलकुछ देर के लिए ही पानी में रह सकती है उसके बाद डॉल्फिन्स को सांस लेने के लिए सतह पर आना पड़ता है।

12.डॉल्फिन की एक खासियत यह है कि यह कंपन वाली आवाज निकालती है जो किसी भी चीज से टकराकर वापस डॉल्फिन के पास आ जाती है। इससे डॉल्फिन को पता चल जाता है कि शिकार कितना बड़ा और कितने करीब है।

13.डॉल्फिन आवाज और सीटियों के द्वारा एक दूसरे से बात करती हैं।

14.दुनिया की सबसे बड़ी Dolphins 9,000 किलो की है, लेकिन सबसे छोटी Dolphins केवल 40 किलो की होती है।

15.डॉल्फिन का रहने का ठिकाना संसार के समुद्र और नदियां हैं।

16.डॉल्फिन्स का गर्भकाल 10 महिने का होता है और प्रसव के कुछ दिन पहले मादा डॉल्फिन्स का एक समूह गर्भवती डॉल्फिन्स की देख-रेख करता है।

17.डॉल्फिन्स को अकेले रहना पंसद नहीं है इसलिए डॉल्फिन्स 10 से 12 के समूह में रहती है।

18.बीच पर मिली डॉल्फिन्स को वापस पानी में कभी भेजने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। इससे वह मर सकती है।

19.डॉल्फिन्स की स्मरण-शक्ति सबसे लंबी होती है।

20.Dolphins की उम्र लगभग 15 साल होती है, लेकिन कुछ Dolphins की प्रजातियाँ 50 साल तक भी जिंदा रहती है।

21.इंसानों से 10 गुना ज्यादा सुन सकती है Dolphins, लेकिन इन्हें किसी भी प्रकार की गंध की समझ नही होती है।

22.दुनिया की लंबी Dolphins 32 फीट और सबसे छोटी Dolphins 4 फीट की है।

Must Read:Mango Facts In Hindi | आम के बारे में कुछ ख़ास बातें जानिए।

23.Dolphins के दाँत होते हुए भी यह अपने भोजन को कभी चबाती नही है, बल्कि सीधे निगल जाती है।

24.Dolphins अपने आप को शिशे में देखना बेहद पसंद करती है और वे खुद को शीशे में पहचान भी सकती है।

25.अमेरिकी नौसेना ने 75 प्रशिक्षित Dolphins को अपने पास रखा है, क्‍योंकि Dolphins पानी के अंदर Mines और दुश्मन तैराकों को ढूंढने में मदद करती है।

26.Dolphins सोते समय अपनी एक आँख खोल कर सोती है।

27.डॉल्फिन्स 60 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से भी तैरती है। लेकिन मनुष्‍य केवल 8.6 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से ही तैर सकता है।

28.Dolphins के बच्चे जब जन्म लेते है तो पहले इस दुनिया में उनकी पूँछ ही निकलती है। सिर बाद में निकलता है।

29.डोल्फिन का शिकार मुख्यतः तेल के लिए किया जाता है।

30.डॉल्फिन्स में एक विशेषता होती है की वो हमारी तरह साँस नहीं लेती है बल्कि उनकी हर साँस उनका एक सचेत प्रयास होती है।

31.डॉल्फिन्स जब चाहे अपनी जिन्दगी समाप्त कर सकती है।

 Read This:150 रोचक तथ्यों का खजाना | 150 Interesting Facts In Hindi

32.भारत में 2009 को डॉल्फिन्स को राष्‍ट्रीय जलीय जीव घोषित किया गया है।

33.डॉल्फिन्स को गंगा का बाघ नाम से जाना जाता है।


डॉल्फिन जैसे मजेदार जीव पर आज के समय में बहुत बड़ा खतरा बना हुआ है, क्‍योंकि डॉल्फिन मछुआरों के कानूनी या गैर कानूनी जालों में फंस कर मर जाती हैं। समूंद्री पानी के अन्‍दर बहुत से बेकार जाल बहते रहते हैं। ऐसे जालों को भूतिया जाल भी कहते है। डॉल्फिन ऐसे जालों में फंस कर मर जाया करती है। एक अनुमान के अनुसार काले सागर में एक हजार किलोमीटर की लंबाई वाले भूतिया जाल मौजूद हैं। जो डॉल्फिन के लिए खतरनाक है।

                   अच्‍छा लगा हो, तो Like/Share कर दीजिए।

 

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.